December 5, 2021

वास्तविक तस्वीर Akbar Birbal Stories in Hindi

वास्तविक तस्वीर Akbar Birbal Stories in Hindi

वास्तविक तस्वीर Akbar Birbal Stories in Hindi

वास्तविक तस्वीर Akbar Birbal Stories in Hindi : एक शाम सदा प्रसन्नचित्त रहने वाला राजकीय चित्रकार शाही उद्यान में चिंतित मुद्रा में खड़ा था। बीरबल उसके निकट पहुँचा और पूछा- “मित्र, क्या बात है, आप बहुत चिंतित दिखाई दे रहे हैं?” “ओह ! मैं बहुत बड़ी मुसीबत में फस गया हूँ। कृपया मेरी सहायता कीजिए।” चित्रकार ने कहा। “हाँ-हाँ कहिए। यदि संभव हुआ, तो बीरबल ने कहा। मैं आपकी मदद अवश्य करूंगा।” चित्रकार, बीरबल को अपने भवन में ले गया और एक ही व्यक्ति की पाँच अलग-अलग तस्वीरें दिखाते हुए बोला “मित्र, ये सभी तस्वीरें एक अमीर सरदार की हैं।

इसे भी पढ़े : शाही स्पर्श Akbar Birbal Stories in Hindi

vaastavik-tasveer-akbar-birbal-stories-in-hindi

वास्तविक तस्वीर Akbar Birbal Stories in Hindi : उसने मुझे अपनी वास्तविक तस्वीर बनाने की चुनौती दी थी और मैंने उसे स्वीकार कर लिया। पहली तस्वीर को बनाने के लिए पूरे एक दिन बैठने के पश्चात् मैंने उससे कहा कि मैं तुम्हारी इस तस्वीर को अंतिम रूप देकर कल दे दूँगा। अगली सुबह मैंने उसे तस्वीर दिखाई, परंतु तस्वीर में उसका वास्तविक रूप नहीं था। एक दिन पहले उसकी दाढ़ी भी थी। परंतु उस दिन केवल उसकी मूंछे ही बची थीं। मैंने उसकी तस्वीर पुन: बनाई और उसे अंतिम रूप देने के बाद अगली सुबह जब मैं उसकी तस्वीर देने उसके घर पहुँचा, तो मैंने पाया कि तस्वीर में अब भी उसका वास्तविक रूप नहीं था, क्योंकि चालाक अमीर ने अब अपनी मूंछे कटवा ली थीं और तस्वीर में उसकी मूंछे थीं।

इसे भी पढ़े : मीठा सच Akbar Birbal Stories in Hindi

akbar-birbal-story-in-hindi

वास्तविक तस्वीर Akbar Birbal Stories in Hindi : इस प्रकार मैंने उसकी पाँच तस्वीरें बनाई, पर हर बार अपने चेहरे में कुछ-न-कुछ परिवर्तन करके वह मुझे परेशानी में डालता रहा। अब मेरा इतना समय तथा प्रयास व्यर्थ हो गया है।” ‘ओह! तो यह बात है। इसका मतलब यह है कि सरदार आपको पारिश्रमिक नहीं देना चाहता। खैर, आप मेरी सलाह मानिए और जैसा मैं कहता हूँ, वैसा कीजिए।”

vaastavik-tasveer-akbar-birbal-story

वास्तविक तस्वीर Akbar Birbal Stories in Hindi : इतना कहकर बीरबल ने चित्रकार को एक योजना समझाई। और चित्रकार को ढाँढस बँधाते हुए कहा “अगर आप ऐसा करेंगे तो आपको पूरा पारिश्रमिक भी मिल जाएगा और धूर्त सरदार को दंड भी मिल जायेगा।” अगली सुबह चित्रकार अमीर सरदार के भवन में पहुँचा और बोला ‘श्रीमान्, यह है आपकी वास्तविक तस्वीर।”

इसे भी पढ़े : बुद्धि से भरा घड़ा – अकबर बीरबल की कहानियाँ।

akbar-birbal-story

वास्तविक तस्वीर Akbar Birbal Stories in Hindi : अमीर ने तस्वीर को देखने के लिए तस्वीर के ऊपर लगे कागज को हटाया, तो उसे अपना चेहरा दर्पण में दिखाई दिया। “धोखेबाज ! मुझे मूर्ख बनाने की तेरी हिम्मत कैसे हुई? यह मेरी तस्वीर नहीं है, यह तो एक दर्पण है।” अमीर सरदार ने गुस्से में कहा। उसी समय बीरबल भी वहाँ पहुँच गया और बोला, “हाँ, अमीर! यही आपकी वास्तविक तस्वीर है। जैसा आप चाहते थे।” अमीर सरदार मान गया कि वह हार गया है। उसने चित्रकार को चित्र बनाने के लिए उचित धन दे दिया।

और कहानियों के लिए देखें : Akbar Birbal Stories in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.