Hindi Bedtime Stories for Children | बच्चो के लिए सोते समय की प्यारी कहानियाँ

Hindi Bedtime Stories for Children : एक स्वच्छ मीठे पानी से भरी गहरी झील के किनारे एक सुंदर महल था। दिन बीतते गए, महल में रहने वाले लोग महल छोड़-छोड़ कर जाने लगे और एक दिन वही बड़ा महल टूट कर गिर गया। वह एक खंडहर बनकर रह गया। कुछ दिन पश्चात पास के जंगल में रहने वाले चूहों का समूह उस ध्वस्त महल के पास से गुजरा। वे उस जीर्ण-शीर्ण महल को देखकर बहुत खुश हुए। ‘अहा! ये जगह हमारे रहने के लिए कितनी बढ़िया है’ – चूहों के सरदार ने कहा। यहां हम शांति से रह सकते हैं। शीघ्र ही चूहों ने महल के कोने-कोने में अपने घर बना लिए और आराम से वहां रहने लगे।

Also Check : Rabindranath Tagore

Hindi Bedtime Stories for Children
Hindi Bedtime Stories for Children : एक दिन हाथियों का झुंड उधर से गुजरा। उनके साथ एक बहुत बड़ा हाथियों का सरदार भी था। उन्हें झील के स्वच्छ पानी की सुगंध आई। वे उत्साहित होकर पानी की तरफ भागे। वे भरपेट पानी पीना चाहते थे, इसलिए वे बड़ी शीघ्रता से महल के खंडहर के बीच में से भागे। ऐसा करने से बहुत से चूहे उनके पैरों तले आकर कुचले गए। कुछ मर भी – गए। चूहे आराम से अपने घरों में सो रहे थे। इस ने आफत के आने पर बचे हुए सब चूहे इकट्ठे हुए और उन्होंने अपने को इस विपति से बचाने के लिए उपाय खोजने के लिए सभा बुलाई।

Also Check : Amitabh Bachchan Success in Hindi 

Hindi Bedtime Stories for Children
Hindi Bedtime Stories for Children : कुछ चूहों ने अपने सरदार से कहा- ‘ये बड़े जानवर अब बार-बार इस झील को देख कर हर बार वे यहां आएंगे उतनी बार हममें से कितने ही उनके पैरों के नीचे दबकर मर जाएंगे. हम ये सब नहीं होने देना चाहते।’ चूहों के सरदार ने उनकी बात मान ली. ‘पर इनसे लड़ा कैसे जाए. ये हमसे लड़ाई में कितने बलवान हैं. हम उनसे अच्छा व्यहवार और दया की कामना ही कर सकते हैं. ऐसे सोच कर सारे चूहे एक कतार में होकर हाथियों के सरदार से मिलने चल पड़े. हाथियों के सरदार ने ध्यान से उनकी बात सुनी. चूहों ने कहा – “हम आराम से वर्षो से इस टूटे – फूटे महल में रह रहे हैं.

Also Check : History of India in Hindi

Hindi Bedtime Stories for Children : आपके हाथियों के झुंड ने झील पर जाने के लिए हमें रौद डाला। आपने सैकड़ों चूहों को मार डाला। अगर यही सब चलता रहा तो एक भी चूहा जिंदा न बचेगा। आप हम पर कृपा कीजिए और अपने हाथियों को किसी दूसरे रास्ते से झील पर ले जाएं। सरदार जी! क्या मालूम हम छोटे प्राणी भी किसी दिन आपके काम आ जाएं।’ बड़े हाथी का दिल चूहों की बात सुनकर पिघल गया। उसने कहा- ठीक है, मेरे सारे साथी दूसरे रास्ते से झील पर जाया करेंगे। हमें पता नहीं था कि आप चूहों ने इस महल में अपने घर बना रखे हैं। अब हम तुम्हे बिल्कुल तंग नहीं करेंगे।’ चूहे ये सब सुनकर बहुत खुश हुए और शांतिपूर्वक अपने-अपने घर चले गए।

Also Check : Yoga for Weight Loss in Hindi 

Hindi Bedtime Stories for Children
Hindi Bedtime Stories for Children : समय इसी प्रकार गुजरता रहा। एक दिन वहां के राजा ने हुक्म दिया कि सब हाथियों को जाल में बांधकर लाया जाए और उन्हें राजा का काम करने की शिक्षा दी जाए। राजा के आदमियों ने जंगल में जाकर सारे हाथियों के लिए जाल बिछा दिए। जब हाथी पानी पीने के लिए झील की तरफ चले, तब एक को छोड़कर सभी हाथी जाल में फंस गए। हाथी जोर-जोर से चीखने-चिंघाड़ने लगे। वे अपने आपको मोटी रस्सियों से छुड़ाने की कोशिश करने लगे, पर कुछ लाभ न हुआ। वे पक्की रस्सियों से बंधे थे। तब हाथियों के सरदार को महल के खंडहरों में रहने वाले चूहों की याद आई। उसने बचे हुए हाथी से कहा-‘तुम जल्दी से चूहों के पास जाओ और उन्हें हमारी हालत बताओ। वे हमारी मदद कर सकते हैं।

Also Check : महात्मा गाँधी के बारे में जानकारी तथा उनके कोट्स

Hindi Bedtime Stories for Children

Hindi Bedtime Stories for Children : चूहों के सरदार से कहना कि मैंने तुम्हें भेजा है।”
हाथी जल्दी ही चूहों के पास पहुंचा और उनके सरदार को सब हाथियों की हालत का समाचार सुनाया। चूहों के सरदार ने सब चूहों को बुलवाया और हाथियों को बचाने का कार्य सौंपा। चूहे हर एक कोने से निकल कर हजारों की संख्या में इकट्ठे हो गए। बड़े चूहे, छोटे चूहे, मोटे चूहे, पतले चूहे, बूढ़े दादा, भूरी मूछों वाले चूहे और छोटे ताकतवर चूहे सभी अपने नेता के साथ जल्दी-जल्दी जाल में फंसे हाथियों के झंड के पास जाने को तैयार हो गए।

Also Check : बुद्धि से भरा घड़ा – अकबर बीरबल की कहानियाँ।

Hindi Bedtime Stories for Children

Hindi Bedtime Stories for Children : शीघ्र ही सब चूहे अपने छोटे और नुकीले दांतों से मोटी रस्सियों को कुतरने लगे। जल्दी ही सारी रस्सियां टूटकर नीचे गिर गई और हाथी आजाद हो गए। उन्होंने अपने छोटे मित्रों का धन्यवाद किया। फिर वे आराम से जंगल की ओर चले गए। हाथियों के सरदार ने अपने सभी हाथियों को बुलाकर कहा-‘देखो हम कितने बड़े और ताकतवर जानवर हैं, फिर भी हमें छोटे और वित्रम चूहों ने बचाया। उनकी एक बार सहायता करने से हमारा जीवन बच गया, अन्यथा हम सभी पकड़े जाते।’

Also Check : ध्यानमग्न तोता – अकबर बीरबल की कहानियाँ।

Hindi Bedtime Stories for Children

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.