Hindi Rhymes | हिंदी कविताओं की बेहतरीन तुकबंदी

Hindi Rhymes

Hindi Rhymes : छोटे – छोटे प्यारे प्यारे बच्चो के लिए यहाँ hindi rhymes का collection हैं आप इन में से किसी भी कविता को चुन कर उन्हें सूना सकते हैं या फिर सारी कविताओं को लेकर उन्हें याद करवा दीजिये. इससे उनके भविष्य में होने वाली याद करने की क्षमता में बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा. और आप इन प्यारी प्यारी कविताओं को अपने नन्हे नन्हे बच्चो को रात में सोने से पहले सूना सकते हैं ताकि उन्हें प्यारी सी नींद आएं. जब बच्चे छोटे होते हैं.

Also Check : Hindi Poems On Nature | प्रकृति की कविताओं का संग्रह

Hindi Rhymes

 

Hindi Rhymes : उस समय उनका दिमाग फूल के समान होता हैं. उस फूल को कैसे खिलाना हैं ये आपके ऊपर निर्भर करता हैं. अगर आप उनको हमेशा सकारात्मक चीजों से घेरे रखोगे तो आगे आने वाले समय में ये उनके लिए भी अच्छा होगा साथ ही साथ समाज और देश को भी लाब पहुंचेगा. शुरुवात आप कीजिये इन सुंदर सुंदर कविताओं को सुना कर.
अगर आप अपनी कोई कविता हमसे बाँटना चाहते हैं तो आपका बहुत बहुत स्वागत हैं. कविता या किसी भी विषय पे लेख बांटने के लिए contact menu में जा कर हमे अवश्य बताए. और साथ ही इस कविता के संग्रह पर अपने विचार भी आप हमसे बाँट सकते हैं.

Hindi Rhymes

बंदर मामा, पहन पजामा :

बंदर मामा, पहन पजामा
दावत खाने आएं
बंदर मामा, पहन पजामा
दावत खाने आएं
ढीला कुरता, टोपी, जूता,
पहन बहुत इतराए
ढीला कुरता, टोपी, जूता,
पहन बहुत इतराए
रसगुल्ले पर जी ललचाया
मुहँ में रखा गप से बंदर मामा रोते – रोते,
घर को वापस आएं
रसगुल्ले पर जी ललचाया
मुहँ में रखा गप से बंदर मामा रोते – रोते,
घर को वापस आएं
फेकी टोपी, फेका जूता
रोये और पछताएं
फेकी टोपी, फेका जूता
रोये और पछताएं

Hindi Rhymes

Also Check :  Gk Question in Hindi

Hindi Rhymes

मछली जल की रानी हैं :

मछली जल की रानी हैं,
जीवन उसका पानी हैं.
मछली जल की रानी हैं,
जीवन उसका पानी हैं.
हाथ लगाओ डर जाएगी,
बाहर निकालो मर जाएगी.
हाथ लगाओ डर जाएगी,
बाहर निकालो मर जाएगी.

Hindi Rhymes

Hindi Rhymes

Also Check : Thoughts in Hindi | हिंदी में बेहतरीन विचार

चंदा मामा दूर के :

 

चंदा मामा दूर के, पुए पकाए बुर के
आप खाए थाली में, मुन्ने को दे प्याली में.
चंदा मामा दूर के, पुए पकाए बुर के
आप खाए थाली में, मुन्ने को दे प्याली में.

प्याली गयी टूट मुन्ना गया रूठ
लायेंगे नयी प्यालिया बजा बजा के तालियाँ
मुन्ने को मनाएंगे हम दूध मलाई खाएंगे
प्याली गयी टूट मुन्ना गया रूठ
लायेंगे नयी प्यालिया बजा बजा के तालियाँ
मुन्ने को मनाएंगे हम दूध मलाई खाएंगे
चंदा मामा दूर के, पुए पकाए बुर के
आप खाए थाली में, मुन्ने को दे प्याली में.

उड़नखटोले बैठ के मुन्ना चंदा के घर जाएगा
तारो के संग आँख मिचौली खेल के दिल बहलाएगा
उड़नखटोले बैठ के मुन्ना चंदा के घर जाएगा
तारो के संग आँख मिचौली खेल के दिल बहलाएगा
खेल खुद से जब मेरे मुन्ने का दिल भर जाएगा
ठुमक ठुमक मेरा मुन्ना वापस घर को आएगा
खेल खुद से जब मेरे मुन्ने का दिल भर जाएगा
ठुमक ठुमक मेरा मुन्ना वापस घर को आएगा
चंदा मामा दूर के, पुए पकाए बुर के
आप खाए थाली में, मुन्ने को दे प्याली में.

Hindi Rhymes

Hindi Rhymes

 

Also Check : Easy Steps to Wake up early at 4:00 am | सुबह 4 बजे कैसे उठे?

हरी नीम की डाल पर :

हरी नीम की डाल पर,
तीन तोते थे, तीनो सोते थे,
एक पटाखा फूटा, जैसे बर्तन टुटा,
डर गए तीनो तोते,
हरी नीम की डाल से,
उड़ गए ततीनो तोते,
एक तोता फुर्र,
दूसरा तोता फुर्र – फुर्र,
तीसरा तोता फुर्र – फुर्र – फुर्र

Hindi Rhymes

चुन चुन करती आई चिड़ियाँ :
चुन चुन करती आई चिड़ियाँ
डाल का दान लायी चिड़ियाँ
मोर भी आया, कौवा भी आया
चूहा भी आया, बंदर भी आया
चुन चुन करती आई चिड़ियाँ
डाल का दान लायी चिड़ियाँ

भूख लगे तो चिड़ियाँ रानी
मुंग की डाल पकाएगी
कौवा रोटी लाएगा
लाके उसे खिलाएगा
मोर भी आया, कौवा भी आया
चूहा भी आया, बंदर भी आया

चलते चलते मिलेगा भालू
हम बोलेंगे नाचो कालू
मुन्ना ढोल बजाएगा
भालू नाच दिखाएगा
मोर भी आया, कौवा भी आया
चूहा भी आया, बंदर भी आया

साथ हमारे चले बाराती
मैं तो हूँ मुन्ने का हाथी
सीधे दिल्ली जाऊंगा
तेरी दुल्हनियां लाऊँगा
मोर भी आया, कौवा भी आया
चूहा भी आया, बंदर भी आया

Hindi Rhymes

Hindi Rhymes

Also Check : Personality Development in Hindi | व्यक्तित्व कैसे निखारे

हाथी राजा बहुत बड़े :

हाथी राजा बहुत बड़े,
सूड उठा कर कहाँ चले,
मेरे घर में आओ ना,
हलवा पुड़ी खाओ ना,
हाथी राजा बहुत बड़े,
सूड उठा कर कहाँ चले,
आओ बैठो कुर्सी पर,
कुर्सी बोली चटर – पटर
हाथी राजा बहुत बड़े,
सूड उठा कर कहाँ चले,

 

Hindi Rhymes

 

 

नानी माँ ने तोता पाला :

नानी माँ ने तोता पाला
करता दिन भर गड़बड़झाला
पिंजरे में ही दौड़ लगाता
मिट्ठू – मिट्ठू कह कर गाता
नानी माँ ने तोता पाला
करता दिन भर गड़बड़झाला
जाने कब करता आराम
नाम बताता मिट्ठू राम
नानी माँ ने तोता पाला
करता दिन भर गड़बड़झाला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.