Home शैक्षिक How to be an Expert in Extempore in Hindi | एक्सटैमप्री में एक्सपर्ट कैसे बने

How to be an Expert in Extempore in Hindi | एक्सटैमप्री में एक्सपर्ट कैसे बने

by Hind Patrika

How to be an Expert in Extempore in Hindi

How to be an Expert in Extempore in Hindi : चलिए आज extempore के बारे में बात करेंगे. यानी की आचिन्तित. इस लेख में हम आपको बताएंगे की अचिंतित कैसे बने? इसे impromtutice भी कहते हैं. अब सबसे पहले तो ये समझ लीजिये की इसमें होता क्या हैं. आप stage के पास जाते हैं. वहां एक bowl होता हैं जिसके अंदर बहुत सारी chits होती हैं. उस chits में से आप एक chits निकालते हैं और जो कुछ भी उस chit में लिख होता हैं उस चीज़ के बारे में आपको दो – तीन या पांच minute बोलने के लिए कहा जाता हैं. अब इस चीज़ को हम लोग समझते हैं की असल में extempore करवाया क्यों जाता हैं. देखिये आज जितनी भी jobs होती हैं उसके अंदर english बोलना बहुत ज्यादा जरुरी होता हैं. मतलब addictional advantage हैं वो मतलब सामने वाला आदमी english में बात कर सकता हैं या नहीं कर सकता हैं. इस चीज़ को देखने का का sure short तरीका जो हैं वो extompere करवाना हैं. 2 minute extempore करवाने से ही पता चल जाता हैं की candidate english में बात कर सकता हैं या नहीं.

Also Check : How to be Best at Group Discussion in Hindi | ग्रुप डिसकशन में बेस्ट कैसे बना जाए

How to be an Expert in Extempore in Hindi
How to be an Expert in Extempore in Hindi : दूसरी चीज़ extempore से यह भी समझ में आ जाता हैं की कोई भी व्यक्ति कितनी जल्दी सोच सकता हैं और कितनी जल्दी अपने thoughts को arrange कर सकता हैं और कितना properly उन thoughts को express कर सकता हैं और यह सब कुछ check करने का सबसे बेहतरीन तरीका extempore करवाना हैं.

Also Check : How to Choose or Make Your Career in Hindi | कौन सा, कैसा और क्या करियर चुना जाए

How to be an Expert in Extempore in Hindi

How to be an Expert in Extempore in Hindi

extempore की सबसे बड़ी परेशानी यह हैं की :
सामने वाला तो आपके सामने कद्दू भी रख देगा और उसके सामने chits भी होंगी और इस बात की बहुत ज्यादा सम्भावना होती हैं की आप जो chit उठाओ उस chit के बारे में आपको ज्यादा कुछ मालूम और जब ये चीज़ standard सेट उप में होता हैं. professional set up में जब ये चीज़ होती हैं तब आपको chit उठाना हैं और आपके पास सोचने के लिए केवल उतना ही समय होता हैं जितने में आप chit उठा कर वापस रख सको इसमें आमतौर पर 10 second लगते हैं यानी आपके पास एक ऐसा topic आ गया जिसके बारे में आपको ज्यादा कुछ मालूम नहीं था और सोचने के लियी आपके पास केवल 10 second थे. आप केवल इस acronim को याद करो.

Also Check : Mind Blowing Facts about Dreams | सपनो के बारे में कुछ ऐसे तथ्य जो आपका दिमाग चकरा देंगे

How to be an Expert in Extempore in Hindi

How to be an Expert in Extempore in Hindi

S – Social
T – Technical
E – Economical
E – Ecological
P – Political
P – Personal

यानी आपके सामने कोई सा भी topic मिले तो आप सबसे पहले उसके social aspect के बारे में बात कर लो, technical aspect के बारे में बात करो, फिर economical aspect के बारे में बात करो, फिर Ecological aspect के बारे में बात करो, फिर politiical aspect के बारे में बात करो और फिर personal aspect के बारे में बात करो.

Also Check : हिटलर के बारे में कुछ ऐसी बाते जो कुछ ही लोगो को पता हैं

How to be an Expert in Extempore in Hindi

How to be an Expert in Extempore in Hindi
अब ऐसा भी मान लेते हैं की आपको हर चीज़ के सारे aspect नहीं होंगे जो की कभी कभी हो जाता हैं. मान लेते हैं आपको किसी चीज़ का ecological aspect नहीं मालुम था तो उसको छोड़ दीजिये उसके बाद वाला aspect बता दीजिये. Political aspect बता दीजिये. Political aspect समझिए और फिर उसके बाद personal aspect बटा दीजिये. केवल इस acronim को याद कीजिये और आप बहुत आराम से 2 minute या चाहे तो 10 minute तक की एक simply answer दे पाएँगे.

Also Check : Best Whatsapp Status in Hindi | वटसैप के सबसे अच्छे मेसेज

How to be an Expert in Extempore in Hindi

How to be an Expert in Extempore in Hindi 
इसका एक example भी देख लीजिये. अब देखिये extempore असल में इस लिए करवाया जा रहा हैं ताकि सामने वाला ये समझ सके की आपकी फ़्लुएन्क्य क्या हैं, आपकी accuracy क्या हैं तो हमेशा ऐसा होगा की वो बहुत general topics पूछेंगे ऐसे topic जिस पर हर कोई बात कर सके. जैसे
honest is the best policy
Importance of english
Love Marriage or arrange marriage
Coeduction
Dowry
Mobile Phones should be banned
Global Warming
Globalisation
Censor Board

How to be an Expert in Extempore in Hindi

एकदम simple और बहुत ही ज्यादा general topics होंगे. अब हम आपको इस चीज़ के formule से extempore कैसे देना हैं ये बताते हैं.

topic ले लेते है :
Importance of english (अंग्रेजी का महत्व)

How to be an Expert in Extempore in Hindi

अब सबसे पहले इसके social aspect के बारे में बात करते हैं. english से आपको society में आपको इज्ज़त मिलती हैं, लोग आपको educated समझते हैं, अगर आप अच्छी और fluent english में बात कर रहे होते हैं तो इसका सीधा सा ये मतलब होता हैं की आपने किसी महंगे school से पढाई की होगी और इसलिए आपका social status जो हैं वो बहुत अच्छा होगा.
अंग्रेजी बोलने का सबसे बड़ा फायदा ये हैं की लोग आपको अमीर और educated मानते हैं. social aspect हो गया.

How to be an Expert in Extempore in Hindi

दूसरा aspect हैं. Technical aspect : देखिये internet को surf करने के लिए सबसे आसन भाषा जो हैं वो अंग्रेजी भाषा हैं क्यों? क्युकी अंग्रेजी में type करना आसन होता हैं और ये भी की अंग्रेजी की typing सीखना हिंदी से बहुत ज्यादा आसन होता हैं
दूसरी चीज़ अगर आपको अंग्रेजी आती हैं. Technical aspect. अगर आती हैं तो तो आपको कोई बहुत ज्यादा grammar सिखने की भी जरुरत नहीं हैं. इसका एक example समझ लीजिये. मान लीजिये की कोई आपके सामने खड़ा हुआ हैं और उसने एक shirt फनी हुई हैं और वो आपसे चार शब्द बोलता हैं. shirt, new market, 400 rupees, yesterday अब आपके सामने पूरी कहानी बन गयी हैं. आपने हर चीज़ समझ ली की ये shirt जो उसने फना हुआ हैं. ये उसने new market से खरीदी हैं, 400 रुपये में खरदी हैं और कल खरीदी हैं.

How to be an Expert in Extempore in Hindi

यानि अगर अंग्रेजी नहीं आती हैं और टूटी फूटी भी आती हैं grammar नहीं आती हैं तो भी हम अपने विचार व्यक्त कर सकते हैं. इस चीज़ का सबसे technical फायदा ये हैं की आप पुरे भारत में घूम सकते हैं और आप जिससे भी चाहे बात कर सकते हैं. भले ही आपको भारत 26 भाषाये सिखने की जरुरत नहीं हैं जो की राजकीय भाषाये हैं. अगर आपको केवल अंग्रेजी आती हैं और वो भी टूटी फूटी आती हैं, बिना grammar की तो भी आप पुरे भारत में घूम सकते हैं और अपनी बात सामने रख सकते हैं. technical aspect.

How to be an Expert in Extempore in Hindi

तीसरा aspect हैं economical aspect – पैसो की बात एक simple सा example ले लीजिये एक वकील हैं जो अंग्रेजी में बात कर सकता हैं और एक वकील वो हैं जो केवल हिंदी में ही बात कर सकता हैं अब इस बात का आप खद अंदाज़ा लगा लीजिये की कौन सा वकील ज्यादा पैसे कमाता होगा. तो भले ही अपने बच्चो को महंगे english medium में पढ़ाने में ज्यादा पैसे खर्च होते हो पर बाद की जिंदगी में बहुत ही अच्छे returns मिलते हैं. ये हो गया importance of moneyका economical aspect

How to be an Expert in Extempore in Hindi

अगला हैं ecological aspect : अंग्रेजी सिखने का इकोलॉजी पर क्या फर्क पड़ सकता हैं. नहीं समझ में आ रहा इसको छोड़ दो.

अगला हैं political aspect : भारत में बेरोज़गारी बढ़ रही हैं और अगर हमे अंग्रेजी आती हैं तो क्युकी हमे अंग्रेजी आती हैं तो हम foreign में भी job कर सकते हैं या फिर चाहे तो foreign की नौकरी भी कर सकते हैं. तो USA में जा कर नौकरी कर लो, नहीं तो BPO के through USA का काम कर लो आप. political aspect हो गया.

How to be an Expert in Extempore in Hindi

आखिरी aspect हैं personal aspect – यानी मुझे क्या लगता हैं, मुझे ये लगता हैं की इनसब वजहों से अंग्रेजी जो हैं बहुत ही ज्यादा importance भाषा हैं और सबको सीखना चाहिए. देखिये अगर हम हर point को बहुत अच्छे से elaborate करते तो इस लेख को यानी इस topic को जो हमने cover किया हैं इसको आराम से लम्बा खिंच सकते थे. यानी ये चीज़ आप एक डीएम पक्की समझो की अगर आप इस formule को किसी भी topic को elaborate करते हो extempore से तो आप 2 या पांच minute तो बात कर ही पाओगे और इसलिए इस चीज़ को सीखिए.

How to be an Expert in Extempore in Hindi

You may also like

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.