Murkh aur Gyani  | Akbar Birbal Stories in Hindi

Murkh aur Gyani | Akbar Birbal Stories in Hindi : एक दिन एक मामले को सुलझाने के बाद बादशाह ने बीरबल से कहा, “बीरबल, क्या तुम जानते हो कि एक मूर्ख और ज्ञानी व्यक्ति में क्या अंतर होता है?” “जी महाराज, मैं जानता हूँ।” बीरबल ने कहा । “क्या तुम विस्तार से बता सकते हो?” अकबर ने कहा। ‘महाराज, वह व्यक्ति जो अपनी बुद्धि का प्रयोग मुश्किल, चुनौतीपूर्ण तथा प्रतिकूल परिस्थितियों में अपना नियंत्रण खोए बिना प्रयोग करता है, वह ज्ञानी होता है। परंतु जो व्यक्ति प्रतिकूल परिस्थितियों को इस प्रकार सुलझाता है कि वह और प्रतिकूल हो जाती हैं, वह मूर्ख कहलाता है।” बादशाह अकबर ने सोचा कि बीरबल शायद यह कहना चाहता है कि एक पढ़ा लिखा व्यक्ति ही ज्ञानी होता है। बीरबल के चतुर जवाब से बादशाह के हृदय में उसका स्थान और पक्का हो गया।

और कहानियों के लिए देखें : Akbar Birbal Stories in Hindi

Share
Published by
Hind Patrika

Recent Posts

दशहरा पर निबंध |Dussehra in Hindi | Essay On Dussehra in Hindi

दशहरा पर निबंध  Essay On Dussehra in Hindi Essay On Dussehra in Hindi : हमारे भारत…

5 months ago

दिवाली पर निबंध | Deepawali in Hindi | Hindi Essay On Diwali

दिवाली पर निबंध  Hindi Essay On Diwali Diwali Essay in Hindi : हमारा समाज तयोहारों…

5 months ago

Vbet10 रिव्यु गाइड, बोनस और डिटेल्स | दिसंबर 2021 | Hind Patrika

Vbet10 एक ऑनलाइन कैसीनो और बैटिंग वेबसाइट है। यह वेबसाइट हाल में ही भारत में…

6 months ago

Fiji (Mini India) & Its Facts in Hindi | फिजी (मिनी इंडिया) और उसके रोचक तथ्य

Fiji (Mini India)        Fiji (Mini India) in Hindi :  आज के इस…

7 months ago

रानी लक्ष्मीबाई की जीवनी | झांसी का युद्ध और मृत्यु

रानी लक्ष्मीबाई | Jhansi Ki Rani in Hindi Jhansi Ki Rani in Hindi: देश की…

3 years ago

पर्यावरण पर निबंध

पर्यावरण पर निबंध | Environment in Hindi Environment in Hindi: पर्यावरण शब्द संस्कृत के दो…

3 years ago