Home Miscellaneous Stop Child Labour Posters | बाल श्रम के विरुद्ध poster

Stop Child Labour Posters | बाल श्रम के विरुद्ध poster

by Hind Patrika

Stop Child Labour Posters

Stop Child Labour Posters : संस्कार से होगा या अधिकार से होगा? – संस्कार से होगा अधिकार से नहीं. अधिकारों के साथ यदि हम चल कर देखते हैं तो कर्तव्य भी हमारा देश के प्रति भी कुछ कर्त्तव्य हैं. हमारे देश में मानवाधिकार होने का किसी भी अधिकार को छोड़ा नहीं गया हैं. परंपरा हमारे यहाँ कर्त्तव्य की रही हैं. अधिकार तो खुद ब खुद समाज आपको दे देता हैं.

Also Check : Slogan in Child Labour in Hindi

Stop Child Labour Posters

Stop Child Labour Posters : आपको लगता हैं की समाज को अधिकार की जरुरत नहीं हैं और संस्कार से ही वो अपना सब कुछ अपना दुरुस्त कर लेगा. संस्कार तो जरुरी हैं. और मुझे लगता हैं की उसका भाव ही ना आएं की अधिकार की जरुरत हैं संस्कार से मतलब ये हैं दिल्ली को अधिकार रहे, लखनऊ को अधिकार रहे, पटना को अधिकार रहे लेकिन अधिकार जो हैं मेनापुठी को ना रहे, अधिकार जो हैं बावली को ना रहे, अधिकार जो हैं xyz जो देश के 6,40,000 गाँव हैं उनको अधिकार ना रहे. परिवारों को कुछ अधिकार ना रहे ऐसी स्थिति में बिना अधिकार के संस्कार भी कैसे ला सकेगा कोई समाज.

Also Check : Slogan on Child Labour in Hindi

Stop Child Labour Posters

Stop Child Labour Posters : दिली और लखनऊ के पास जो निर्णय लिए जाते हैं. निर्णय लेने की power केवल राज्यों और केन्द्रों के पास हैं. execution किया जाता हैं जिले के अंदर गाँव के अंदर उससे ज्यादा वहां निर्णय नहीं होते हैं. हमारा कहना हैं ‘right to decision’ अगर वहां गाँव के अंदर scheme ना जा कर के बजट गया और गाँव के लोगो से कहा की आप अपने गाँव का गाँव बजट बनाए, हम देश का बना लेंगे तब शायद उनके अंदर जिम्मेदारी का भाव पैदा होगा.
देखिये पहली ऐसी व्यवस्था थी ये पिरामिड उल्टा कर दिया गया हैं. पहली ऐसी व्यवस्था थी की गाँव जो हैं वो सारे decision गाँव लेते थे. गाँव के लोग अपना अपना निर्णय लेते थे की उन्हें क्या करना हैं, क्या नहीं करना हैं?

Also Check : Slogans for Child Labour in Hindi

Stop Child Labour Posters

Stop Child Labour Posters : पुरी व्यवस्था इतना समय नहीं हैं. गांधीजी ने बहुत लिखा हैं इस पर की पूरी व्यवस्था होती थी. बढ़ई कौन होगा, कुम्हार कौन होगा तो भारत इसलिए सोने की चिड़ियाँ था क्यूंकि गाँव समृद्ध थे जब गाँव समृद्ध होंगे तो इलाका समृद्ध होगा, अगर इलाकार समृद्ध होगा तो देशह समृद्ध होगा तो आज ये उल्टा हो गया हैं पिरामिड उल्टा हो गया हैं. पहले गाँव के लोगो को power थी लेकिन अब दिल्ली के पास power हैं, लखनऊ के पास power हैं और यहाँ बैठे लोग जो नीतियाँ बनाते हैं जाहिर हैं की उसमे वो गाँव के लोग नहीं होते हैं.

Also Check : Slogans on Child Labour in Hindi Language

Stop Child Labour Posters

Stop Child Labour Posters : शिक्षा देते हैं मास्टरजी गाँव के अंदर मास्टरजी के लिए वेतन तो कही न कही लोगो से जाता हैं और वो जिन लोगो की सेवा करने के लिए आते हैं पढ़ाने के लिए आते हैं उन लोगो के प्रति उनकी कोई जवाबदेही तय नहीं हुई हैं. उनकी जवाबदेही ऐसे व्यक्ति के प्रति हैं जिसको गाँव के लोग नहीं जानते हैं जो basic शिक्षा अधिकारी हैं या जो ऊपर हैं जब वो check करने के लिए आते हैं तब वो उनके लिए अच्छे से चाय का इंतज़ाम करते हैं, अच्छे से मिठाई का इंतज़ाम करते हैं, समोसे का इंतज़ाम करते हैं और वो आदमी खुश हो कर के चला जाता हैं.

Also Check : Stop Child Labour Quotes in Hindi

Stop Child Labour Posters

Stop Child Labour Posters : गाँव के लोगो के प्रति उसकी कोई accountability नहीं हैं और शायद अगर गाँव के लोगो के पास ये अधिकार हो की वो मास्टरजी को ये कह सके की हम आपके तनख्वाह भी काट सकते हैं अगर आपने हमारे बच्चो को थीक्क नहीं पढाया तो, हम आपको terminate करने का भी right रखते हैं अगर आपने हमारे बच्चो को नहीं पढाया तो आप appoit हुवे हैं हमारे लिए, आपको काम करना हैं हमारे लिए और आप मिठाई खिलाएंगे किसी और को ये नहीं चलेगा. आप result हमे दीजिये.
Stop Child Labour Posters : देखिये बिहार में ही ऐसे कई उदहारण हैं की गाँव में ऐसे कई दबंग हैं जिन्होंने शिक्षा व्यवस्था को चौपट किया हैं. आप देखिये की निदेशायालय से सचिवालय से जो आदेश आता हैं. शिक्षक से आप election का भी काम करवा रहे हैं. जनगणना का कम करवा रहे हैं, सारा काम आप करवा रहे हैं. पहले ऐसी स्थिति हुई थी झारखण्ड में की एक शिक्षक 365 दिन में से मात्र 101 दिन पढाई करवाता हैं. जिमेदारी तो उसके पास हैं ही नहीं सारा काम आप गुरूजी से करवाए जा रहे हैं. ये क्या बात हुई
बाल श्रम जो अभी भी हमारे राष्ट्र के माथे पर कलंक की तरह हैं. हम पूरी तरह से पूरी के पुरे विचार हमने आपके साने खोला जिसमे हमारा नज़रिया पूरी तरह से साफ़ थे.
यहाँ हम आपके लिए बाल श्रम को रोकने के लिए posters लाएं हैं. इन्हें फैलाइये और लोगो को जागरूक कीजिये.
धन्यवाद 🙂

Also Check : Poem on Child Labour in Hindi

Stop Child Labour Posters

Child Labour Drawings | Child Labour in India Posters | Poster Against Child Labour | Poster Making on Child Labour | Poster on Child Labour | Poster on Stop Child Labour | Posters of Child Labour Posters Related to Child Labour | Posters on Child Labour | Stop Child Labour Poster | Stop Child Labour Posters

Also Check : Poems on Child Labour in English

You may also like

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.