very short stories for kids with pictures

एक सही उपाय पर फिर भी क्यूँ पछताय | Ek Sahi Upay Par Fir Bhi Kyun Pacchtae

एक सही उपाय पर फिर भी क्यूँ पछताय | Ek Sahi Upay Par Fir Bhi Kyun Pacchtae एक सही उपाय पर फिर भी क्यूँ पछताय | Ek Sahi Upay Par Fir Bhi Kyun Pacchtae : किसी नदी के किनारे एक बगुला और एक केकड़ा रहता था। साथ – साथ रहने के कारण दोनों में दोस्ती हो …

एक सही उपाय पर फिर भी क्यूँ पछताय | Ek Sahi Upay Par Fir Bhi Kyun Pacchtae Read More »

झूठ के पांव नहीं होते | Jhuth Ke Panv Nahi Hote

झूठ के पांव नहीं होते | Jhuth Ke Panv Nahi Hote झूठ के पांव नहीं होते | Jhuth Ke Panv Nahi Hote : किसी जंगल में एक सियार (गीदड़) रहता था। एक दिन भोजन की तलाश में वह सारे दिन जंगल में भटकता रहा, किंतु उसे कोई भी शिकार न मिला। भोजन की तलाश में वह …

झूठ के पांव नहीं होते | Jhuth Ke Panv Nahi Hote Read More »

रहस्य को रहस्य रहने दो | Rehsy Ko Rehsy Rehne Do

रहस्य को रहस्य रहने दो | Rehsy Ko Rehsy Rehne Do रहस्य को रहस्य रहने दो | Rehsy Ko Rehsy Rehne Do : राजा के एक ही बेटा था। राजा के उस बेटे के पेट में सर्प ने अपना बसेरा बना लिया था। सर्प के विष के प्रभाव से राजकुमार दिनोंदिन सूखता ही जा रहा था। …

रहस्य को रहस्य रहने दो | Rehsy Ko Rehsy Rehne Do Read More »

मूर्खो को सलाह देने का परिणाम | Murkho ko Salah Dene Ka Parinam

मूर्खो को सलाह देने का परिणाम | Murkho ko Salah Dene Ka Parinam मूर्खो को सलाह देने का परिणाम | Murkho ko Salah Dene Ka Parinam : किसी वन में एक ऊंचे और घने पेड़ पर बया पक्षी अपनी पत्नी के साथ घोंसला बनाकर रहता था। एक बार शरद ऋतु में मूसलाधार वर्षा शुरू हो गई, …

मूर्खो को सलाह देने का परिणाम | Murkho ko Salah Dene Ka Parinam Read More »

ललकार – बंदर की | Lalkaar – Bandar Ki

ललकार – बंदर की | Lalkaar – Bandar Ki ललकार – बंदर की | Lalkaar – Bandar Ki : एक बार अर्जुन, भारत के सभी तीर्थ-स्थलों की यात्रा पर निकले। उनके साथ एक ब्राह्मण भी थे। जब वह रामेश्वरम् पहुँचे तो ब्राह्मण बोला, “यह वह स्थान है, जहाँ से भगवान् राम और बन्दरों की सेना ने …

ललकार – बंदर की | Lalkaar – Bandar Ki Read More »