Home Hindi Kahani लडकियां क्यूँ समझ नहीं पाती | Why Girls don’t understand (LoveStory)

लडकियां क्यूँ समझ नहीं पाती | Why Girls don’t understand (LoveStory)

by Hind Patrika

लडकियां क्यूँ समझ नहीं पाती | Why Girls don’t understand (LoveStory)

लडकियां क्यूँ समझ नहीं पाती | Why Girls don’t understand (LoveStory) : मोबाइल बजा। मेघा ने अपना फ़ोन उठाया और देखा की आदित्य का मेसेज हैं जिसमे लिखा था – “मीटिंग में हूँ। बात नहीं कर सकता। ”

उसे बुरा सा लगा. आदित्य पहले ही उसके तीन फ़ोन काट चुका था और उसके बाद भेजा भी तो उसने मेसेज जिसमे उसने यही जताया की वो कितना बिजी हैं. मेघा के चेहरे पर उदासी छा गयी. ये सब रात के खाने के समय हुआ था. मेघा के पापा ने उसके चेहरे से अंदाज़ा लगा लिया था की मेघा दुखी हैं तो उन्होंने उससे पूछा, “क्या हुआ बेटा, कुछ परशान सी दिख रही हो। ”

Also Check : Hindi Hasya Kavita

Why Girls don't Understand (LoveStory)

 

“आह! कुछ भी नहीं पापा। “मेघा ने सवाल को अनदेखा करने की कोशिश की।

उसके पिता उसे देखकर मुस्कुराये और कहा, “तुम जानती हो मेघा, मैं भले ही तुम्हारी माँ का चेहरा ना पढ़ पाऊं लेकिन अपनी बेटी का पढ़ सकता हूँ। मुझे बताओ, क्या बात है? ”

लडकियां क्यूँ समझ नहीं पाती | Why Girls don’t understand (LoveStory) : मेघा के पास कोई चारा नहीं था। इस प्रकार, उसने अपने पिता को समझाया, “पिताजी, आदित्य मुझे पूरा टाइम नहीं दे रहा हैं, हम लोग पूरे दिन में आधे घंटे भी बात नहीं करते, अगले महीने हमारी शादी होने वाली हैं लेकिन अब मुझे ऐसा एहसास हो रहा हैं की जैसे वो मुझसे प्यार ही नहीं करता.”

Also Check : Fun in Hindi

Why Girls don't Understand (LoveStory)

“टाइम नहीं दे पाता, अच्छा तो तुम्हारे हिसाब से टाइम कैलकुलेट करता हैं की कौन किस्से कितना प्यार करता हैं।” मेघा के पिता ने पूछा?

“मुझे तो ऐसा ही लगता हैं!” मेघा ने कहा।

“ठीक है, इसका मतलब तो मैं तुम्हारी माँ से बिलकुल भी प्यार नहीं करता”।

मेघा ने कहा, “क्या? अरे मैं आपके और माँ के बारे में बात नहीं कर रही हूँ ये आपके बारे में हैं ही नहीं बल्कि. आप दोनों एक दुसरे के लिए बने हो, क्यूंकि आप अपना पूरा टाइम माँ को देते हो. आपके प्यार में कोई शक नहीं हैं ।”

Also Check : Funny Jokes in Hindi

“बेटा, आप बहुत अच्छी तरह से जानते हो कि मैं भारतीय सेना में एक सैनिक था। मेरे कर्तव्य के अनुसार, मेरा तुम्हारी माँ को आधा घंटा देना भी संभव नहीं था। कई दिन थे जो हमने बिना बात करते हुवे गुज़ारे हैं। लेकिन, हम विश्वास और भावना के कारण वर्षों से साथ में खुश हैं। आपकी माँ ने हुमेह्स अमेरे प्यार पर विश्वास किया हैं। देखो, आज मैं उसे अपना पूरा समय दे पा रहा हूं। ” मेघा के पिता ने प्यार की सीक्रेट रेसिपी मेघा को बताई।

“लेकिन पापा, भाई भी तो अपना पूर असमय भाभी को देता हैं, तो अदि ऐसा क्यूँ नहीं कर सकता? मेघा ने कहा।

लडकियां क्यूँ समझ नहीं पाती | Why Girls don’t understand (LoveStory) : “यहाँ पर ही तुम लडकियां गलत हो जाती हो जब तुम दुसरो से अपने प्यार को कमपेयर करने लगती हो, अच्छा मुझे एक बात बताओ, क्या तुम्हारा और अदि का प्यार और तुम्हारे भैया भाभी का प्यार एक जैसा हैं? ऐसा कभी भी नहीं हो सकता. हर किसी के प्यार की एक ख़ास चमक होती हैं लेकिन जब तुम अपनी चमक दुसरे से तोलोगी तो खुद की कम ही पाओगी, क्यूंकि तुम अपने प्यार को इतना छोटा समझती हो जो की दुसरो से उसे तोल रही हो। मेघा के पिता ने अपने विचार फिर उसके सामने रखे

“लेकिन पापा… मेघा अभी भी अपने पिता के साथ बहस करने की कोशिश कर रही थी।

Why Girls don't Understand (LoveStory)

उसके पिता ने उसके शब्दों को बीच में ही रोक दिया, “तुम्हारा भाई, अपनी बीवी को टाइम दे पाता हैं क्यूंकि मैं अकेला हूँ इस घर में जो काम करता हैं, ठीक जैसा की अदि हैं अपने घर में एकलौता. तुम्हारी तरफ से तुम औरते बस यही सोचती हो की घर कैसे बनाया जाए जहाँ हम लोग सोचते हैं की घर कैसे चलाया जाए. इस तरह से शादी काम करती हैं। मुझे आशा है बेटी तुम जल्द ही इस चीज़ को समझ पाओगी ”

Also Check : Hindi Funny Quote

मेघा को अपनी पिता की बात पसंद नहीं आई लेकिन उसने कुछ नहीं कहा . उसके पिता ने खाना खा कर हाथ धोये और अपनी बेटी के माथे पर चूमा और कमरे में चले गए. मेघा को भले ही अपने पिता की बात पसंद ना आई हो क्यूंकि उसे ऐसा लग रहा था की उसके पिता उस पर गुस्सा हुवे हैं लेकिन उसे कही ना कही अपनी गलती भी समझ में आ रही थी, ठीक उसी समय घर का दरवाज़ा बजता हैं, मेघा दरवाज़ा खोलने जाती हैं और देखती हैं ये क्या सामने अदि खड़ा हैं।

इससे पहले की वो एक भी शब्द बोल सके आदित्य ने पहले ही कह दिया “सरप्राइज! सॉरी तुमसे झूठ बोलना पडा”!!!”

लडकियां क्यूँ समझ नहीं पाती | Why Girls don’t understand (LoveStory) : हालांकि यह कोई ख़ास दिन नहीं था लेकिन अदि आज 5 बजे ही उठ गया था और वो छे घंटे ट्रेवल कर के आया था सिर्फ मेघा को देखने और मेघा को सरप्राइज देकर उसके चचरे पर ख़ुशी देखने. ये वो समय था जब मेघा अच्छे से समझ चुकी थी की प्यार में भावनाए और भरोसा ज्यादा जरुरी हैं ना की टाइम।

Also Check : The Best Quotes about Life

Why Girls don't Understand (LoveStory)

You may also like

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.