0

Real Love Story | प्यार की कहानी – एक नगमा

Sharing is caring!

Real Love Story

Real Love Story : ये कहानी हैं मेरे घर के सामने रहने वाले एक परिवार के दो सदस्यो की. मेरे हिसाब से ये सबसे प्यारी love story हैं और सबसे बड़ी बात – ये एक जीता जागता उदहारण हैं और उनके लिए सबक हैं जो सच्चे प्यार पर विश्वास नहीं करते.

Also Check  : नौकरी करने में इतने व्यस्त न हो जाएँ कि पैसे बनाना भूल जाएँ

Real Love Story

मेरे घर के सामने जो परिवार रहता हैं उसमे प्यारी सी family रहती हैं. अंकल – आंटी, उनके दो बच्चे और अंकल के parents जिन्हें मैं दादा – दादी कहती हूँ.

Real Love Story

दादाजी अब इस दुनिया में नहीं हैं, उन्हें गुज़रे हुवे 10 साल हो चुके हैं. उन्होंने वो पांच महीने बड़ी मुश्किल से काटे जब दादी माँ गुज़र चुकी थी और अब दादाजी भी.

Also Check  : A Story that will Change Your Life in Hindi

वो बहुत दुखी और परेशान रहते थे साथ ही हमे पता चला था की उन्हें अल्जाइमर की बीमारी लग चुकी हैं. लेकिन वो कभी दादी माँ को नहीं भूले थे. केवल वो ही एक थी जो उन्हें बार बार याद आती थी. उन्हें कभी – कभी लगता था की दादी माँ अभी भी जिंदा हैं और उनके साथ हैं. वो उन्हें आवाज़ भी देते लेकिन जब वो नहीं आती थी तो उन्हें बहुत बुरा लगता था.
वो जब भी घरवालो से बात करते और दादी माँ की बात कही से आ जाती तो वो घरवालो को कहते की जाओ उन्हें बुला कर लाओ दुसरे कमरे से, वो वहां अकेली होंगी.

Also Check  : Nirma Success Story of Karasanbhai Patel

Real Love Story

Real Love Story

वो सबसे बढ़िया चाय बनाती थी, कभी कभी दादाजी गुस्से में आंटी की बनाई हुई चाय फेंक देते थे. वे तब भी बहुत गुस्सा हो जाते थे जब उनका बिस्तर सही से बना हुआ नहीं होता था या फिर उनके कपड़ो में इस्त्री नहीं हुई होती थी. ये बहुत छोटी छोटी चीज़े थी जिस पर दादी माँ ने शायद हमेशा से ध्यान दिया था और दादाजी ने कभी नही लेकिन वो उन सब चीजों को सराहना जरुर करते होंगे. और अब ये सब चीज़े समय से और ढंग से ना हो पाने के कारण इन सब चीजों ने उन्हें बहुत बुरी तरह से आघात किया. मेरी आंटी की इन सब में कोई गलती नहीं थी वो अपनी तरफ से पूरी कोशिश करती लेकिन दादाजी और उनकी इच्छा मेल नहीं खाती थी. आंटी इस बात को समझती थी इसलिए दादाजी को पलट कर कभी जवाब नहीं देती थी.

Also Check  : Thought of the Day Hindi and English

Real Love Story

ये सब बहुत दुःख भरा था. घरवालो ने उन्हें कई बार बताया, लेकिन दुसरो की बाते उनके लिए कोई मायने नहीं रखती थी. अगर कुछ चीज़ मायने रखती थी तो वो थी उनकी प्यारी पत्नी का जिंदा रहना. और उन्होंने अपनी हर कोशिश की उन्हें हर जगह ढूंढने की और उनके साथ रहने की.

मैं अब भी उनके बारे में कई बार सोचती हूँ. और मैं यही प्रार्थना करती हूँ की वो जहाँ कही भी होंगे साथ में होंगे और ख़ुशी से होंगे. 🙂

Also Check  : Amazing Antarctica Facts in Hindi

Real Love Story

Real Love Story

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *