Home त्यौहार दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

by Hind Patrika

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare : दोस्तों कार्तिक अमावस्या के दिन मनाये जाने वाले पर्व जिसे दिवाली कहा जाता हैं हिन्दू धर्म का मुख्य पर्व होता हैं इस दिन श्री गणेश ओर ऐश्वर्य की देवी माँ लक्ष्मी की पूजा की जाती हैं. दिवाली के दिन अयोध्या के राजा अपने 14 साल के वनवास काट कर लौटे थे. इस दिन हम माँ लक्ष्मी की विधि विधान से पूजा करते हैं. धर्म शास्त्र के अनुसार माना जाता हैं की इन दिनों माँ लक्ष्मी हमारे घर में प्रवेश करती हैं और उन्ही की हमे आराधना करनी चाहिए जिससे वो अपनी कृपा हम पर सदैव बनाए रखे. दोस्तों कभी कभी दिवाली के इन दिनों में हम बिना जाने कुछ ऐसे काम कर जाते हैं जिससे माँ लक्ष्मी क्रोधित हो जाती हैं. आज हम आपको बताएंगे कुछ ऐसे काम जिन से माँ लक्ष्मी प्रसन्न हो जाती हैं.

Also Check : अच्छे विचार हिन्दी में

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

पहला : सूर्योदय से पहले उठे –
आमतौर पर हमे जल्द ही उठाना चाहिए लेकिन बहुत से लोग होते हैं जो सुबह किसी कारणवश देर से उठते हैं. शास्त्रों की बात माने तो हमे दिवाली के दिन ब्रह्ममुहर्त में उठना चाहिए ऐसा करने से माँ लक्ष्मी आप पर प्रसन्न रहती हैं साथ ही आपके घर में धन धन्य की कमी नहीं होती. इसलिए इन दिनों में जल्दी उठने की कोशिश करे.

Also Check : Safety Slogans in Hindi

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

दूसरा : सूर्यास्त के समय ना सोए –
अगर आपको कोई शारीरिक समस्या हैं या फिर कोई गर्भवती महिला हैं तो ही शाम के समय सोए, आराम करे इसके अलावा इस समय आपको नहीं सोना चाहिए. माना जाता हैं इस समय माता लक्ष्मी हमारे घर आती हैं. अगर आप सोते मिले तो वे दरवाज़े से ही वापस लौट जाएंगी जिससे आप के घर दरिद्रता का निवास होगा.

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

Also Check : खुद को बदलो दुनिया को नहीं

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

तीसरा : नशा ना करे –
शास्त्रों के अनुसार इन दिनों किसी भी प्रकार का नशा करना वर्जित माना जाता हैं, जो लोग दिवाली के दिन नशा करते हैं वो सदा दरिद्र ही बने रहते हैं. नशा अभिशाप के सामान माना गया हैं साथ ही घर की पवित्रता भी नष्ट होती हैं इसीलिए नियमित नशे से दूर रहना चाहिए.

चौथा : अपने से बड़ो का आदर करे –
शास्त्रों में लिखा हैं की अपने से बड़ो का आदर करना चाहिए कभी भी उन से गलत तरीके से व्यहवार नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से देवी देवता क्रोधित होते हैं.

Also Check : कोई चीज़ शुभ या अशुभ नहीँ होती

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

पांचवा : किसी से लड़ाई झगड़ा न करे –
दिवाली के बिना किसी से किसी भी विषय में बहस ना करे. परिवार के सभी सदस्यों को मिल जुल कर प्रेम से रहना चाहिए. इससे घर में ख़ुशी का माहौल होता हैं साथ ही आप पर माता लक्ष्मी की कृपा रहेगी. घर में शांति रहने से कभी भी माँ लक्ष्मी उस घर से नहीं जाती.

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

छठा : घर को साफ़ रखे –
दिवाली में अपने घर को साफ़ रखना चाहिए. जिससे जब भी लक्ष्मी आए तो बिना रुके अन्दर आ जाए. माता का आगमन अपने घर में करने के लिए सुगन्धित पुष्पों का छिडकाव करना चाहिए. जिससे किसी भी प्रकार की बदबू ना आए.

Also Check : बेहतरीन विचारों का सॅंग्रह

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

सातवा : गुस्सा करने से बचे –
दिवाली के दिनों में गुस्सा नहीं करना चाहिए और तेज़ आवाज़ में चिल्लाना भी नहीं चाहिए. ऐसा करना अशुभ माना जाता हैं. अगर आप गुस्सा करते हैं तो आपके ऊपर कभी भी लक्ष्मी प्रसन्न नहीं होती. जिससे आपके घर में सिर्फ और सिर्फ गरीबी का निवास होगा.

तो दोस्तों हमने आपको बताये वो चीज़े जो दिवाली के दिनों में नहीं करनी चाहिए. आशा करते हैं आपको हमारा ये लेख पसंद आया होगा. अपने विचार comment section में बताएं.
धन्यवाद! 🙂

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

Also Check : चमकती त्वचा के लिए हिंदी में ब्यूटी टिप्स

दिवाली में गलती से भी ये ना करे | Diwali Mein Galti Se Bhi Ye Na Kare

You may also like

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.