मोटापा कैसे कम करें- 6 आसान तरीके – 6 Simple Ways for Weight Loss

मोटापे से छुटकारा किसे नहीं चाहिए? हर कोई अपने पेट की चर्बी से छुटकारा पाना चाहता है। मोटापे की 

 वजह से आपको रोज़मर्रा की जिंदगी के काम में दिक्कत आने के साथ-साथ, ये आपके शरीर में हार्ट, लंग्स, किडनी, लिवर,और ब्रेन में हेल्थ प्रॉब्लम्स का कारण भी बनता है। इससे पहले कि ये मोटापा आपके स्वास्थ्य पर प्रभाव डाले, आप अपनी रोज़मर्रा की जिंदगी मे कुछ ऐसी आदतें अपना सकते है जिससे आपको मोटापा घटाने

मे काफी मदद मिलेगी।

चीनी के सेवन से बचने की कोशिश करें-

चीनी के सेवन से metabolic health पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है। चीनी में 50 प्रतिशत Glucose और 50  प्रतिशत fructose होता है। Fructose को लीवर द्वारा एक limited मात्रा के साथ metabolized किया जाता है। अधिक मात्रा में रिफाइंड चीनी के सेवन करने से लिवर उसका पाचन नहीं कर पाता और उस Fructose को चर्बी बना देता और यही चर्बी आपके पेट में जमा हो कर belly फेट बनती है। 

चीनी का अधिक सेवन मोटापे के मुख्य कारणों में आता है। कोशिश करे कि चीनी का सेवन कम से कम करें।

पेट की चर्बी कम करने के लिए व्यायाम बहुत प्रभावी है  

व्यायाम एक ऐसी जादू की छड़ी है जिसके अनेक फायदे हैं। व्यायाम न केवल पेट की चर्बी से छुटकारा पाने में आपकी मदद करता है, बल्कि स्वस्थ जीवन व लंबी उम्र भी सुनिश्चित करता है। इसके अलावा, तैरना, चलना या दौड़ना भी आपको पेट की चर्बी कम करने में मदद करता है।

यदि आप व्यायाम या किसी भी aerobic गतिविधि को जारी रखते हैं तो यह पेट की चर्बी के विकास को भी रोक देगा। अगर आप नियमित रूप से व्यायाम करने लगे, तो एक सवस्थ जीवन जीने के लिए सबसे लाभकारी होगा. 

खाने में protein की मात्रा को बढ़ाएं

खाने मे  protein की मात्रा बढ़ाना, मोटापा कम करने मे काफी फायदेमंद है। खाने मे उचित मात्रा मे protein आपकी cravings को 60% कम करता है, ये आपके metabolism को बढ़ा कर 80-100 कैलोरीज प्रति दिन करता है, व प्रति दिन calories का सेवन कम करने में आपकी मदद करेगा। अंडे, nuts, मांसाहारी और dairy प्रोडक्ट्स protein के बहुत अच्छे स्त्रोत हैं।    

 खाने मे क्या और कितना खा रहे उसका track रखे। 

जो भी खाएं उस पर हमेशा अपनी सख्त नजर रखें, कई बार हम टीवी देखते हुए खाना शुरू कर देते हैं। इसका सबका बड़ा नुकसान ये होता है कि  हमे ये पता ही नहीं चलता है कि हमने कितना खाना खाया।

कई बार हम ये सोच कर ज्यादा खाना खा लेते हैं कि हम हैल्थी प्रोटीन या कार्ब युक्त खाना खा रहे हैं। ध्यान दें कि भले ही आप कितना भी अच्छा और सेहतमंद खाना खा रहे हो, जरूरत से ज्यादा खाना नुकसान ही करेगा। हमारे शास्त्रों में कहा भी गया है कि अति सर्वथा वर्जितै । इसीलिए हमेशा अपने खाने की क्वालिटी और क्वांटिटी दोनों का ध्यान रखें ।

रेशेदार भोजन खाएं

हाँ, ये सच है कि प्रोटीन खाना अच्छी बात है। पर अगर आप प्रोटीन ही खाते रहेंगे और खाने में रेशेदार चीज़ों का इस्तेमाल नहीं करेंगे तो आप भयंकर रूप से बीमार हो सकते हैं। खाने में कम फाइबर होने से आपका पाचन तंत्र पूरी तरह ख़राब हो सकता है। यहाँ तक कि मांसाहारी जीव जैसे शेर और कुत्ते भी पेट ठीक रखने के लिए कभी कभी घास का सेवन करते हैं । इसका सबसे अच्छा तरीका ये है|

  1. सबसे पहले आपको क्या क्या खाना है उसकी लिस्ट बनाएं. देखें कि रेशेदार भोजन में आता है। गेंहू, सेब, दालें, मक्का, केले, अखरोट, राजमा आदि
  2.  उसके बाद इस लिस्ट को canva में अपलोड कर दें|
  3. एक बार ये सब रेडी हो जाये तो इस डाटा को सेव करके प्रिंट कर लें और अपने किचन में लगा लें|

अपनी जीवन शैली बदलें

सिर्फ खाना यानि कि आहार ही सब कुछ नहीं होता। आपको आहार के साथ विहार भी बदलना होगा। जैसे अगर आप रोज़ अच्छा और शुद्ध खाना खा रहे हैं, पर आप रात भर जाग कर टीवी देखते रहते हैं तो कभी न कभी आप बीमार पड़ ही जायेंगे। अतः अपनी रोजाना की दिनचर्या में सुधार लाएं । अगर समय की कमी हो तो भी कम से कम 15 मिनट जरूर कसरत करें। कसरत करने का मतलब ये नहीं के आप gym ही जाएं। आप 15  मिनट तेज़ कदमो से चल सकते हैं, आप दफ्तर जाते समय लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का प्रयोग कर सकते हैं। या जब भी किसी से फ़ोन पर बात कर रहे हों, तब चलना फिरना शुरू कर दें।

सेहतमंद होना बहुत ही आसान है अगर आप मन में निश्चय कर लें । आशा है आपको ये लेख पसंद आया होगा और उम्मीद है कि ये आपको मोटापा करने में और सेहतमंद बनाने में मदद करेगा ।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.