Home प्रेम कहानियाँ True Love Stories Hindi | सच्चे प्यार की कहानी

True Love Stories Hindi | सच्चे प्यार की कहानी

by Hind Patrika

True Love Stories Hindi

True Love Stories Hindi : प्यार के इस रस में डूबने वालो की कमी नहीं हैं खुद भगवान् कृष्णा इसमें डूबकी मारने से खुद को रोक नहीं पाए तो हम सभी तो केवल तुच्छ इंसान मात्र हैं उनके सामने हम खुद को कैसे प्रेम रुपी प्याला पिने से रोक सकते हैं. इनसे ही प्रेरित होकर कुछ सुंदर और सच्ची प्रेम कहानियों का संग्रह लेकर हम अपने प्रिय पाठको के सामने उपस्थित हुवे हैं. उम्मीद हैं आपको ये कहानियाँ पसंद आएंगी.

Also Check  : A Story that will Change Your Life in Hindi

True Love Stories Hindi

True Love Stories Hindi

नीरजा – अच्छा, तो तुम करते क्या हो?

धीरज – मैं उड़ता हूँ!

नीरजा – क्या सॉरी! मैं कुछ समझी नहीं

धीरज – मैं एक पायलट हूँ (मुस्कुराते हुवे)

नीरजा – ओह! अब समझ में आया.

धीरज – ओके! फाइनली, मैं समझ में आ ही गया तुम्हे.

Also Check  : Nirma Success Story of Karasanbhai Patel

True Love Stories Hindi

True Love Stories Hindi

नीरजा – तुम नहीं तुम्हारी बाते, वो भी कुछ कुछ.

धीरज – ओके मैम! तो अब ये भी बता दीजिये दोनों में फर्क क्या हैं?

नीरजा – फर्क! बस इतना समझ लो लोग बदल जाते हैं. शब्द नहीं बदलते, बातो का मतलब कभी नहीं बदलता

धीरज – इसीलिए शब्द लिखे जाते हैं.

नीरजा – और लोग भी.

Also Check  : Merry Christmas Story in Hindi

True Love Stories Hindi

True Love Stories Hindi

धीरज – अच्छा! चलो मैं हार गया, अब तुम बताओ तुम क्या करती हो?

नीरजा – मैं भी तुम्हारी तरह हवा में रहती हूँ.

धीरज – एक मिनट! मैं समझा नहीं. क्या मतलब? कही तुम्हारा मतलब हैं की…

नीरजा – हाँ! मैं भी एक पायलट हूँ! (मुसकुराते हुवे) 🙂

धीरज – तुम भी. वाओ! ये तो बहुत अच्छी बात हैं.

Also Check  : Amazing Antarctica Facts in Hindi

True Love Stories Hindi

नीरजा – हाँ! वो तो हैं. वैसे ये इत्तेफाक बड़ा कमाल का हैं. ऐसा अक्सर होता नहीं हैं. मैं जेट एयरवेज से हूँ और तुम?

धीरज – मैं इंडियन एयर फ़ोर्स से.

नीरजा – तुमने इंडियन एयर फ़ोर्स क्यूँ ज्वाइन की? मेरा मतलब प्राइवेट एयरलाइन्स एक अच्छा आप्शन हैं करियर की नज़रिए से, तुम्हे नहीं लगता?

Also Check  : नौकरी करने में इतने व्यस्त न हो जाएँ कि पैसे बनाना भूल जाएँ

True Love Stories Hindi

True Love Stories Hindi

धीरज – गौरव मैम! गौरव शब्द यहाँ पर सही बैठेगा.

नीरजा – हम्म… अब आई बात समझ में. 🙂

 

धीरज – सिर्फ मेरे शब्द, सही कहा ना मैंने?

नीरजा – नहीं! इस बार तुम, तुम समझ में आये इस बार. शायद तुम्हे समझ लिया. 🙂

इस तरह से दो अनजाने पायलट मिलते हैं और धीरे धीरे समय के साथ साथ उनका प्यार आसमान की उंचाइयां छूने लगता हैं.

Also Check  : Rainy Season in Hindi

True Love Stories Hindi

You may also like

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.